Top
Filmchi
Begin typing your search above and press return to search.

विकास दुबे के बाद मुंबई से लखनऊ ला रही UP पुलिस की गाड़ी फिर पलटी, गैंगस्टर फिरोज की मौत

लखनऊ के ठाकुरगंज कोतवाली से गैंगस्टर में वांछित चल रहे अपराधी फिरोज उर्फ शमी को मुंबई से गिरफ्तार कर ला रही पुलिस की गाड़ी मध्य प्रदेश के गुना में पलट गई। इस हादसे में फिरोज की मौत हो गई जबकि रिंगरोड चौकी प्रभारी जगदीश पांडेय, सिपाही समेत चार लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए पुलिस कमिश्नर ने बदमाश और घायलों के परिवार के साथ पुलिस की एक टीम गुना भेज दी है।

विकास दुबे के बाद मुंबई से लखनऊ ला रही UP पुलिस की गाड़ी फिर पलटी, गैंगस्टर फिरोज की मौत

Desk EditorBy : Desk Editor

  |  2020-09-28T18:20:05+05:30

दिल्ली। लखनऊ के ठाकुरगंज कोतवाली से गैंगस्टर में वांछित चल रहे अपराधी फिरोज उर्फ शमी को मुंबई से गिरफ्तार कर ला रही पुलिस की गाड़ी मध्य प्रदेश के गुना में पलट गई। इस हादसे में फिरोज की मौत हो गई जबकि रिंगरोड चौकी प्रभारी जगदीश पांडेय, सिपाही समेत चार लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए पुलिस कमिश्नर ने बदमाश और घायलों के परिवार के साथ पुलिस की एक टीम गुना भेज दी है।

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय के मुताबिक बहराइच निवासी फिरोज उर्फ शमी के खिलाफ ठाकुरगंज कोतवाली में छह मुकदमे दर्ज थे। इनमें तीन लूट के, दो चोरी और एक गैंगस्टर एक्ट का था। वर्ष 2014 से वह फरार चल रहा था इसके बाद ही उस पर गैंगस्टर लगा था तीन दिन पहले उसके मुंबई में होने की खबर मिलने पर ठाकुरगंज कोतवाली की रिंगरोड चौकी के प्रभारी जगदीश पांडेय, सिपाही संजीव सिंह, मुखबिर और ड्राइवर के साथ सड़क मार्ग से 25 सितंबर को मुंबई गए थे। शनिवार रात को इस टीम ने मुंबई पुलिस की मदद से फिरोज को गिरफ़तार कर लिया फिरोज का गैरजमानती वारन्ट कोर्ट से जारी हुआ था।

नील गाय को बचाने में पलटी कार

पुलिस के मुताबिक रविवार तड़के तीन बजे उसे लेकर टीम लखनऊ के लिए निकली। करीब सात बजे गुना में चचोड़ा इलाके के पास कार के सामने अचानक नील गाय आ गई। उससे बचने के प्रयास में गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई। इस हादसे में कार सवार पांचों लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल ले जाया गया जहां फिरोज को मृत घोषित कर दिया गया जबकि जगदीश, सिपाही, मुखबिर व ड्राइवर का इलाज चल रहा है।

कमिश्नर ने आर्थिक मदद के साथ टीम भेजी

गाड़ी पलटने से बदमाश की मौत और पुलिसकर्मियों के घायल होने की सूचना मिलते ही यहां हड़कम्प मच गया। पुलिस कमिश्नर ने गुना के एसपी से पूरी जानकारी ली। फिर घायलों की मदद करने के लिए कहा। इतना ही नहीं पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने घायल पुलिस वालों के परिवार से बात की। फिर एक टीम को आर्थिक मदद के साथ गुना के लिए रवाना कर दिया। इस टीम के साथ अपराधी फिरोज के घर वालों को भी भेजा गया है।

Next Story
HSAHRE