Top
Filmchi
Begin typing your search above and press return to search.

सोनू सूद ने साधा निशाना, कहा- 'अगर आज सुशांत सिंह जिंदा होते तो खुद के नाम पर हो रहे सर्कस को देख हंसते'

सुशांत की मौत पर बयानबाजी कर रहे लोगों से सोनू सूद खासा नाराज हैं। सोनू सूद ने कहा कि ऐसे लोग जल्द ही नया मुद्दा खोज लेंगे और सुशांत को भूला दिया जाएगा।

सोनू सूद ने साधा निशाना, कहा- अगर आज सुशांत सिंह जिंदा होते तो खुद के नाम पर हो रहे सर्कस को देख हंसते

Desk EditorBy : Desk Editor

  |  28 Sep 2020 8:42 AM GMT

नई दिल्ली : बॉलीवुड एक्टर और लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बने सोनू सूद ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर राजनीति कर रहे लोगों पर निशाना साधा है। सोनू सूद उन लोगों से खासा नाराज हैं जो खबरों में आने के लिए दिवंगत एक्टर की मौत का सहारा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि लाइमलाइट में आने के लिए लोग दिवंगत एक्टर की मौत पर बयानबाजी कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि इसकी शुरुआत सुशांत की मौत के कारण का पता लगाने के लिए हुई थी और अब ऐसा लगता है कि लोग असली मुद्दे से भटक गए हैं। सोनू सूद ने आगे कहा कि अगर आज सुशांत सिंह राजपूत जिंदा होते तो वे इस सर्कस को देखकर हंस रहे होते। एक न्यूज पोर्टल से बात करते हुए उन्होंने कहा, 'जो लोग सुशांत से एक बार भी मिले तक नहीं, वे भी उनकी ओर से बात कर रहे हैं। ऐसे लोग केस के जरिए खबरों में आना चाहते हैं।

सोनू सूद ने बताया कि वे सुशांत से कई दफे मिले। दोनों जिम में एक-दूसरे के साथ वर्क आउट भी करते थे। सुशांत एक अच्छे हीरो थे। एक आउटसाइडर होने के बाद भी उन्होंने काफी कुछ हासिल किया था। सुशांत उन लोगों पर हंसते जो खुद के मन से ही उनके लिए प्रवक्ता बने हुए हैं। ऐसे लोग उनके बारे में बढ़-चढ़कर बातें कर रहे हैं जबकि उनका परिवार घर पर शांत बैठा है।

सोनू ने आगे कहा कि धीरे-धीरे लोग सुशांत को भूलने लगे हैं। अब वे अपनी राय देने के लिए नया मुद्दा खोज लेंगे। उन्हें ऐसे होता देखकर काफी दुख होता है। मालूम हो, जून के महीने में 14 तारीख को सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड कर लिया था। इसके बाद उनकी मौत से जुड़ी कई नई बातें सामने आईं। फिलहाल मामले की जांच देश की तीन शीर्ष जांच एजेंसियां (सीबीआई, ईडी और एनसीबी) कर रही हैं।

Next Story
HSAHRE