Filmchi
Begin typing your search above and press return to search.

8 घंटे की पूछताछ के बाद पुलिस स्टेशन से बाहर निकले यौन शोषण के आरोपी अनुराग कश्यप

एक्ट्रेस पायल घोष (Payal Ghosh) के आरोपों के मद्देनजर मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) से 8 घंटे लंबी पूछताछ की. 8 घंटे की पूछताछ के बाद अनुराग कश्यप वर्सोवा पुलिस स्टेशन से बाहर निकले.

8 घंटे की पूछताछ के बाद पुलिस स्टेशन से बाहर निकले यौन शोषण के आरोपी अनुराग कश्यप

Desk EditorBy : Desk Editor

  |  1 Oct 2020 6:56 PM GMT

मुंबई. एक्ट्रेस पायल घोष (Payal Ghosh) द्वारा दर्ज कराए यौन शोषण के मामले में फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) गुरुवार को वर्सोवा पुलिस थाने पहुंचे. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने उन्हें पूछताछ के लिए तलब किया था. पायल घोष के आरोपों के मद्देनजर मुंबई पुलिस ने डायरेक्टर अनुराग कश्यप से 8 घंटे लंबी पूछताछ की. 8 घंटे की पूछताछ के बाद अनुराग कश्यप वर्सोवा पुलिस स्टेशन से बाहर निकले.

अधिकारी ने बताया कि कश्यप अपने दो सहयोगियों के साथ सुबह करीब 10 बजे पुलिस थाने पहुंचे. इस दौरान कश्यप हाथ में कुछ दस्तावेज लिए हुए भी दिखे. अधिकारी ने बताया कि उनके वकील भी कुछ देर बाद पुलिस थाने पहुंचे. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक्ट्रेस घोष अपने वकील नितिन सतपुते के साथ 22 सितम्बर को पुलिस थाने पहुंची थीं, जिसके बाद वर्सोवा पुलिस ने कश्यप के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

अपनी शिकायत में घोष ने आरोप लगाया है कि कश्यप ने 2013 में उनका यौन शोषण किया था. घोष ने मंगलवार को केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले के साथ महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी और डायरेक्टर के खिलाफ कार्रवाई की अपील की थी. मुलाकात के बाद मंत्री ने संवाददताओं से कहा कि राज्यपाल ने कहा है कि वे इस मामले में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख से बात करेंगे.

घोष ने सोमवार को आठवले के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन किया था और अनुराग कश्यप की गिरफ्तारी की मांग की थी. केन्द्रीय मंत्री ने कहा था कि कश्यप को पुलिस ने इस सप्ताह गिरफ्तार नहीं किया गया तो उनकी पार्टी प्रदर्शन करेगी. कश्यप के खिलाफ इस सप्ताह वर्सोवा थाने में भारतीय दंड विधान की धारा 376 (I), 354, 341 और 342 के तहत मामला दर्ज किया गया था.

Next Story
HSAHRE